लौट आ ऐ बचपन

होश संभालने के बाद से लेकर जब तक हम मासूम रहते हैं…वह अवस्था कितनी अच्छी होती है…वह समय कितना मधुर होता है…जैसे जैसे समझ बढ़ती जाती है, उस मधुरता का रस भी सूखने लगता है। काश, फिर से वही निस्वार्थ मस्ती भरा बचपन फिर से लौट आए…

ऐ बचपन तू लौट के आ,
जब मिलजुल के सब रहते थे,
अपना भी था परिवार बड़ा,
फूल खुशी के खिलते थे,
न कोई किसी की भाभी थी,
न कोई किसी का देवर था,
न किसी से कोई रंजिश थी,
न किसी के मुख पे तेवर था,
न जीजा थे न साली थी,
न घरवाली मतवाली थी,
दादा दादी की पलकों की,
छांव खूब घनेरी थी,
रोज कथा कहानी सुनते,
पलकों की छांव में रहते थे,
खुशी गमीं के मौकों पर,
रिश्तेदार जो आते थे,
हिस्सा बन कर हम सबका,
परिवार में ही घुल जाते थे,
पापा की आंखों के डर से,
अनुशासन में सब रहते थे,
मम्मी की लाड लडैया में,
छोटे सपने सच होते थे,
भईया दीदी की पकड़ के उंगली,
मेले में घूम के आते थे,
लड़ते भी थे भिड़ते भी थे,
पर अंत में भूल सब जाते थे,
हर शाम मोहल्ले के बच्चों संग,
खूब मस्तियां करते थे,
हर खेल को खेला करते थे,
कपड़े मिट्टी में सनते थे,
न ट्यूशन थी न लेक्चर था,
न ऑनलाइन का चक्कर था,
गाढ़ी लस्सी संग मक्खन था,
शुद्ध घी और शक्कर था,
बहुत याद आती है तेरी,
असली जीवन तो तुझमें था,
ऐ बचपन फिर लौट के आ,
यौवन से तू बढ़कर था।


28 thoughts on “लौट आ ऐ बचपन

  1. Aap ki sunder rachna par kar. Sara bachpan wo sunhrye pal. Sharartyen khel kood sab kuch yaad aa gaya. Aap ka shukriya💐💐💐💐💐💐God bless💕

    Liked by 1 person

  2. जीवन की यादों में सबसे खूबसूरत यादें
    बचपन की ही होती हैं ,सुंदर रचना

    Liked by 1 person

  3. Ye daulat bhi lelo,
    Ye shohrat bhi lelo,
    Bhale chhin lo mujhe se meri jawani.
    Magar mujhe ko louta do BACHPAN ka sawan,
    Wo kagaj ki kashti,
    Wo barish ka pani…..
    🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏
    Very beautifully sung by
    JAGJIT SINGH…
    sentiments of CHILDHOOD…
    Never could b forgotten…

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s