सुंदरता Beauty

ऐ प्यारी सुंदरता!
ख्वाहिश रखता है
पाने की तुम्हें हर कोई
स्त्री हो या पुरूष
युवा हो या प्रौढ़
तलाश में तुम्हारी
नजर आता है हर कोई
मेहरबां हो जाती हो
जिस किसी पे भी तुम
मन ही मन इठलाता सा
नजर आता है सोई
नाम भले ही तुम्हारा एक है
पर रूप तुम्हारे अनेक हैं
वाणी में – शब्दों में
बोलों में – गीतों में
बात में – व्यवहार में
तन पर – मन पर
दिलो – दिमाग पर
सौम्यता बनकर छा जाती हो तुम
प्रकृति पे आच्छादित हो कर
मां जैसी मुस्कुराती हो तुम
मैं भी तो चाहता हूं हर पल तुम्हें
दीवानों की तरह
महक जाना चाहता हूं
भरकर तुम्हारी सुगंध से
फूलों की तरह
पर सच तो यह है कि
जिनके मन शीशे के मानिंद
होते हैं साफ
भूल कर वैर – विरोध
और सभी बुराईयां
कर देते हैं हर इक को माफ
उनके दिलों की गहराईयों में
समा सी जाती हो तुम
अंतर्मन को उनके
महका सी जाती हो तुम
उनकी आंखों में सदा 
झिलमिलाती हो तुम
दिव्य आभा बन मुख पर
चमचमाती हो तुम
उनके तन और मन को
रोशन सा कर जाती हो तुम


Follow & Enjoy http://www.keyofallsecret.com