मजबूत बनो Be Strong

आजकल निराशा जीवन में पाँव पसारती जा रही है और आज का मानव सब सुख भोगते हुए भी इस गहरे दलदल में फँसता जा रहा है। इसका कारण भी वही स्वयं है और इसका निवारण भी उसी के पास है। आईए, स्वयं को जानें, अपने मन से भार उतारें और हल्के होकर स्वयं पर विजय प्राप्त करके प्रसन्नता की पवन में उड़ने का आनंद लें।
Nowadays, despair is spreading in life and the human being is getting stuck in this deep marsh even after luxry life. Only he is responcible for his depression and he have the solution to overvome this too. Come, get to know yourself, take the weight off your mind and feel lightly yourself and enjoy flying in the wind of happiness.

क्या खो गया है तेरा इतना,
जो तूं इतना रोए है,
मिला तो तुझको तब भी करता,
जब तूं चादर तान के सोए है,
चिंताओं की बांध पोटली,
सर पर अपने ढोए है,
काटे फसल वही अब जैसी,
पहले से ही बोए है,
देख ध्यान से दुनिया को,
हर पल ही यहां कोई मोए है,
रो मत संभाल श्वांसों की मटकी,
जो हर पल ही चोए है,
कर कर्म महान और सुमिर नाम,
जिसे करता विरला कोए है,
बने भविष्य उसी का उज्ज्वल,
जो हर पल मन को धोए है,
सुखी वही है इस जग में,
हर हाल में जो खुश होए है,
कर युद्ध स्वयं से जीत ले मन,
संग दुनिया तेरे होए है।


http://www.keyofallsecret.com